सरकार ने बृहस्पतिवार को कहा कि देश भर के 42 हजार से अधिक सरकारी विद्यालयों में पेयजल सुविधा नहीं है जबकि 15 हजार विद्यालय शौचालयों से वंचित हैं। शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल ने एक प्रश्न के लिखित उत्तर में राज्यसभा को यह जानकारी शिक्षा के लिए एकीकृत जिला सूचना प्रणाली (यूडीआईएसई) के आंकड़ों के हवाले से दी।

उन्होंने कहा, ‘‘यूडीआईएसई के अनुसार 2018-19 में देश में 10,41,327 सरकारी विद्यालयों में पेयजल की सुविधा थी और 10,68,726 विद्यालयों में शौचालय थे।’’

पोखरियाल ने कहा, ‘‘राज्यों एवं केंद्र शासित प्रदेशों को बार बार यह सुनिश्चित करने का परामर्श दिया गया है कि गैर सरकारी क्षेत्र सहित सभी विद्यालयों में लड़कों एवं लड़कियों के लिए अलग अलग शौचालयों का प्रावधान होना चाहिए और सभी बच्चों के लिए सुरक्षित एवं पर्याप्त पेयजल सुविधा उपलब्ध होनी चाहिए।’’