मिलान। इटली छुट्टियां नजदीक आने के साथ ही टीका नहीं लगवाने वाले लोगों के लिए जीवन को और अधिक असहज बना रहा है। ऐसे लोगों को कोरोना वायरस के प्रसार को कम करने के लिए चारदीवारी के अंदर चलने वाले रेस्तरां, थिएटर और संग्रहालयों में जाने की इजाजत नहीं दी गई है और टीकों को लेकर संशय जताने वालों को खुराक प्राप्त करने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है।

सोमवार से 15 जनवरी तक, इतालवी पुलिस जांच कर सकती है कि रेस्तरां या बार में भोजन करने वालों के पास “सुपर” ग्रीन हेल्थ पास है या नहीं जो यह प्रमाणित करता है कि उन्हें या तो टीका लगाया गया है या वे हाल में वायरस से उबर चुके हैं। लोगों के स्वास्थ्य पास की स्थिति की जांच करने वाले स्मार्ट फोन ऐप्लिकेशन को अपडेट किया जाएगा और केवल हाल में कोविड-19 की जांच में नेगेटिव पाए गए लोगों को अब संगीत-फिल्म कार्यक्रमों या प्रदर्शनों में शामिल होने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

नए ओमीक्रोन स्वरूप के बारे में चिंताएं पैदा होने से पहले ही, इटली में कोविड-19 के नये मामले पिछले छह हफ्तों से धीरे-धीरे बढ़ रहे हैं। यह एक चिंताजनक बात है क्योंकि इतालवी लोग दोस्तों और परिवार के साथ समय बिताने के लिए छुट्टियों की पार्टियों और मिलने-जुलने की योजना बनाते हैं। पिछले साल संक्रमण में भारी वृद्धि के कारण क्रिसमस यात्रा और छुट्टियों की सभाओं को सख्ती से सीमित कर दिया गया था।

जर्मनी और ऑस्ट्रिया दोनों ही टीकों को अनिवार्य बनाने की ओर बढ़ रहे हैं, इसके बजाय इटली वर्ष के सबसे खुशनुमा समय में टीका नहीं लगवाने वालों पर प्रतिबंधों को कड़ा कर रहा है – जबकि टीकाकरण करने वालों को कमोबेश सामान्य जीवन जीने की अनुमति है।