बर्लिन। दवा कंपनी फाइज़र और जैव प्रौद्योगिकी कंपनी बायोनटेक ने शुक्रवार को कहा कि उन्होंने यूरोपीय संघ से उनके कोविड रोधी टीके को पांच से 11 साल की उम्र के बच्चों पर इस्तेमाल करने के लिए लाइसेंस देने का आग्रह किया है।

अगर यूरोपीय संघ का नियामक इसे मंजूरी दे देता है तो यह यूरोप के बच्चों के लिए कोविड रोधी टीका लगवाने का पहला मौका होगा। फाइज़र और बायोनटेक ने कहा है कि उन्होंने यूरोपीय औषधि एजेंसी को आंकड़े जमा करा दिए हैं जिनमें छह महीने से लेकर 11 वर्ष की उम्र तक के 2200 से अधिक बच्चों पर किए गए अंतिम चरण के अध्ययन के नतीजे भी शामिल हैं। बच्चों को वयस्कों की तुलना में कम खुराक दी गई है।

कंपनी ने बयान में बताया कि नतीजों में टीके के बाद बच्चों में मजबूत रोग प्रतिरोधक क्षमता विकसित हुई है और टीका उनपर सुरक्षित पाया गया है। फिलहाल यूरोप या उत्तरी अमेरिका में 12 साल से कम उम्र के बच्चों के लिए किसी भी कोविड रोधी टीके को मंजूरी नहीं दी गई है।

यूरोपीय संघ में फाइज़र-बायोनटेक और मॉडर्ना द्वारा निर्मित टीकों का इस्तेमाल 12 साल या इससे ज्यादा उम्र के लोगों पर किए जाने की अनुमति है।

फाइज़र और बायोनटेक ने इस महीने की शुरुआत में अमेरिका के खाद्य और औषधि प्रशासन से उनके टीके को पांच से 11 साल की उम्र के बच्चों पर इस्तेमाल करने की इजाजत देने का आग्रह किया था।