नई दिल्ली। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को दिल्लीवासियों से शहर में प्रदूषण कम करने में मदद की अपील की और कहा कि सप्ताह में कम से कम एक दिन निजी वाहनों का इस्तेमाल ना करें।

उन्होंने कहा कि आस-पास के राज्यों के किसानों के पराली जलाना शुरू करने के कारण, दिल्ली में पिछले तीन-चार दिनों से वायु प्रदूषण बढ़ने लगा है।

केजरीवाल ने कहा, ‘‘ मैं एक महीने से वायु गुणवत्ता के आंकड़े ट्वीट कर रहा हूं। उसमें दिख रहा है कि आस-पास के राज्यों के किसानों के पराली जलाना शुरू करने के कारण दिल्ली में पिछले तीन-चार दिनों से वायु प्रदूषण बढ़ने लगा है।’’

मुख्यमंत्री ने कहा कि समय आ गया है कि दिल्लीवासी प्रदूषण को कम करने की जिम्मेदारी अब अपने हाथ में लें।

उन्होंने कहा कि यह जरूरी है कि हरेक व्यक्ति अपनी जिम्मेदारी निभाए और कम से कम स्थानीय स्तर पर उत्पन्न प्रदूषण घटाने के लिए 18 अक्टूबर से शुरू होने वाले ‘रेड लाइट ऑन, व्हीकल ऑफ’ अभियान सहित तीन उपायों में योगदान दें।

केजरीवाल ने कहा कि विशेषज्ञों का कहना है कि लाल बत्ती पर वाहन बंद करने से 250 करोड़ रुपये बचाए जा सकते हैं और प्रदूषण 13 से 20 प्रतिशत कम किया जा सकता है।

उन्होंने लोगों से सप्ताह में कम से कम एक दिन सार्वजनिक वाहनों का इस्तेमाल करने या ‘कार पूल’ करने का अनुरोध किया।

मुख्यमंत्री केजरीवाल ने कहा कि लोगों को दिल्ली सरकार की आंख तथा कान बनना चाहिए और कूड़ा जलाने जैसी प्रदूषण फैलाने की घटनाओं की जानकारी देनी चाहिए, ताकि उनसे निपटा जा सके।