सिंगापुर। सिंगापुर ने जोहानिसबर्ग से आए सिंगापुर एयरलाइंस (एसआईए) के विमान में यात्रा करने वाले एक यात्री को पृथकवास में भेज दिया है, जो सिडनी पहुंचने पर कोविड-19 के नए स्वरूप ‘ओमीक्रोन’ से संक्रमित पाए गए दो यात्रियों के संपर्क में आया था। इस यात्री की पहचान उनके करीबी सम्पर्क के तौर पर की गई है।

स्थानीय मीडिया की खबर के अनुसार, यह यात्री अन्य छह लोगों के साथ एसआईए के एसक्यू481 विमान से उतरा था, जो 27 नवंबर को जोहानिसबर्ग से रवाना हुआ था और उसी दिन सिंगापुर के चांगी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पहुंचा।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार रात बताया कि सिंगापुर आए ये छह यात्री निर्धारित केन्द्र में पृथक रह रहे हैं और उनकी कोविड-19 संबंधी जांच भी की जाएगी।

एसआईए के प्रवक्ता ने ‘चैनल न्यूज एशिया’ को बताया कि विमान के पायलट और चालक दल के सदस्यों को भी पृथकवास में भेजा गया और उनकी भी जांच की जाएगी। उसने इस बात पर जोर दिया कि 28 नवंबर को ऑस्ट्रेलिया जाने वाले एसक्यू 211 विमान में यात्रा करने वाले अधिकतर यात्री उड़ान के प्रस्थान करने तक चांगी हवाई अड्डे पर पारगमन क्षेत्र में ही रहे और हवाई अड्डे के अन्य क्षेत्रों में नहीं गए।

समाचार पत्र ‘टुडे’ ने स्वास्थ्य मंत्रालय के हवाले से कहा, ‘‘इन यात्रियों के सम्पर्क में आए हवाई अड्डे के कर्मियों की पहचान की जा रही है।’’

इससे पहले, ऑस्ट्रेलिया के न्यू साउथ वेल्स (एनएसडब्ल्यू) प्रांत के स्वास्थ्य मंत्रालय ने सोमवार को बताया था कि दक्षिण अफ्रीका से सिडनी पहुंचे दो यात्री कोविड-19 के नए स्वरूप स्वरूप से संक्रमित पाए गए हैं। उन दोनों का पूर्ण टीकाकरण हुआ था। अभी वे सिडनी में पृथक-वास में रह रहे हैं।

मीडिया की खबरों में एनएसडब्ल्यू के हवाले से कहा गया, ‘‘ विमान में सवार सभी लोगों को उनके करीबी सम्पर्क के तौर पर देखा जा रहा है और उन सभी को 14 दिन तक पृथक रहने तथा जांच कराने की जरूरत है, चाहे उनका टीकाकरण हुआ है या नहीं।’’

एसआईए के प्रवक्ता ने बताया कि ग्राहक गोपनीयता के कारण एयरलाइन यात्रियों की निजी जानकारी साझा नहीं कर सकती, लेकिन वह स्वास्थ्य अधिकारियों को ‘‘उनके सम्पर्क में आए सभी लोगों की पहचान करने’’ में मदद करेगी।

आंकड़ों के अनुसार, सिंगापुर मे अभी तक कोविड-19 के 2,63,486 मामले सामने आ चुके हैं और संक्रमण से 710 लोगों की मौत हुई है।