ऑस्ट्रेलिया में हिंदू मंदिर की दीवार पर लिखे मोदी विरोधी नारे


मंदिर में नियमित रूप से आने वाली सेजल पटेल ने कहा, आज सुबह जब मैं पूजा के लिए आई तो मैंने सामने की दीवार पर बदसूरत बर्बरता देखी। मंदिर के अधिकारियों ने गेट पर एक खालिस्तानी झंडा लटका हुआ पाया, और मामले की सूचना न्यू साउथ वेल्स पुलिस को दी।


नागरिक न्यूज नागरिक न्यूज
विदेश Updated On :

मेलबर्न। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ऑस्ट्रेलिया यात्रा से पहले एक हिंदू मंदिर की दीवार पर उनके खिलाफ नारे लिखने की घटना सामने आई है। मोदी 23 मई को ऑस्ट्रेलिया जाने वाले हैं। ऑस्ट्रेलिया टुडे ने बताया कि पश्चिमी सिडनी के रोजहिल उपनगर में बीएपीएस स्वामीनारायण मंदिर की सामने की दीवार पर मोदी को आतंकवादी घोषित करो के संदेश के साथ शुक्रवार सुबह स्प्रे-पेंट किया गया था।

मंदिर में नियमित रूप से आने वाली सेजल पटेल ने कहा, आज सुबह जब मैं पूजा के लिए आई तो मैंने सामने की दीवार पर बदसूरत बर्बरता देखी। मंदिर के अधिकारियों ने गेट पर एक खालिस्तानी झंडा लटका हुआ पाया, और मामले की सूचना न्यू साउथ वेल्स पुलिस को दी।

रिपोर्ट के मुताबिक, पुलिस अधिकारियों ने मंदिर का दौरा किया। उन्हें हमले का सीसीटीवी फुटेज मुहैया कराया गया है। इससे पहले मार्च में ब्रिस्बेन में श्री लक्ष्मी नारायण मंदिर की चारदीवारी को तोड़ दिया गया था।

इस साल जनवरी में मेलबर्न में तीन हिंदू मंदिरों को खालिस्तानी समर्थकों द्वारा भारत विरोधी भित्तिचित्रों और भिंडरावाले समर्थक नारों के साथ विरूपित किया गया था। बाद में मंदिर के पुजारियों को ‘खालिस्तान जिंदाबाद’ के नारे लगाने के लिए धमकी भरे फोन आए।

विदेश मंत्री एस. जयशंकर की ऑस्ट्रेलिया यात्रा के कुछ ही दिनों बाद फरवरी में ब्रिस्बेन में भारतीय वाणिज्य दूतावास पर खालिस्तानी झंडे लगे पाए गए थे।

भारत ने बार-बार ऑस्ट्रेलियाई सरकार के सामने कड़ा विरोध दर्ज कराया है और तेजी से कार्रवाई करते हुए अपराधियों को कानून के दायरे में लाने के लिए कहा है।

इस वर्ष अपनी भारत यात्रा के दौरान ऑस्ट्रेलिया के प्रधानमंत्री एंथनी अल्बनीस ने मोदी को कड़ी कार्रवाई का आश्वासन देते हुए कहा था कि भारतीय समुदाय की सुरक्षा उनकी सरकार की प्राथमिकता है।

मोदी मई में जापान, पापुआ न्यू गिनी और ऑस्ट्रेलिया की यात्रा पर जाने वाले हैं, जहां वे सिडनी में 23-24 मई को क्वाड शिखर सम्मेलन में भाग लेंगे।