भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) की ओर से मंगलवार को जारी एक रिपोर्ट के अनुसार पिछले 121 सालों के औसत तापमान के आधार पर, जनवरी सर्दियों का तीसरा सबसे गर्म महीना था वहीं न्यूनतम तापमान के आधार पर फरवरी दूसरा सबसे गर्म महीना दर्ज किया गया।

उत्तर पश्चिमी भारत के लिए फरवरी में न्यूनतम और औसत तापमान वर्ष 1901 से लेकर अब तक के कालखंड में सबसे ज्यादा रहा। वर्ष 1901-2021 के बीच किया गया विश्लेषण यह दिखाता है कि जनवरी 2021 में अखिल भारतीय औसत न्यूनतम तापमान 14.78 डिग्री सेल्सियस था।

वर्ष 1919 में जनवरी का तापमान 15 डिग्री सेल्सियस था और यह अब तक की सबसे गर्म जनवरी थी। आईएमडी ने कहा, “इसलिए जनवरी 2021, वर्ष 1958 के बाद से 62 साल में सबसे गर्म महीना था।”